Month: August 2016

31 AUGUST – BABA KI MURLI KAI AAJ KAI MAHAVAKAYA

31-08-16 प्रात:मुरली ओम् शान्ति “बापदादा” मधुबन “मीठे बच्चे  –  यह पुरूषोत्तम बनने का संगमयुग है, इसमें कोई भी पाप कर्म नहीं करना है” प्रश्न:- संगम

Month: August 2016

Month: August 2016

30 AUGUST – BABA KI MURLI KAI AAJ KAI MAHAVAKAYA

30-08-16 प्रात:मुरली ओम् शान्ति “बापदादा” मधुबन “मीठे बच्चे – तुम ड्रामा के गुप्त रा॰ज को जानते हो कि यह संगमयुग ही चढ़ती कला का युग

Month: August 2016

Month: August 2016

29 AUGUST – BABA KI MURLI KAI AAJ KAI MAHAVAKAYA

29-08-16 प्रात:मुरली ओम् शान्ति “बापदादा” मधुब “मीठे बच्चे – मनमनाभव की ड्रिल सदा करते रहो तो 21 जन्मों के लिए रूस्ट-पुस्ट (निरोगी) बन जायेंगे” प्रश्न:-

Month: August 2016

Month: August 2016

28 AUGUST – BABA KI AVYAKT MURLI KAI AAJ KAI MAHAVAKAYA

28-08-16 प्रात:मुरली ओम् शान्ति “अव्यक्त-बापदादा” रिवाइज:08-11-81 मधुबन “अन्तर सम्पन्न करने का साधन `तुरन्त दान महापुण्य” वरदान:- अन्तर्मुखी बन अपने समय और संकल्पों की बचत करने

Month: August 2016

Month: August 2016

27 AUGUST – BABA KI MURLI KAI AAJ KAI MAHAVAKAYA

27-08-16 प्रात:मुरली ओम् शान्ति “बापदादा” मधुबन  “मीठे बच्चे – सुख देने वाले बाप को बहुत-बहुत प्यार से याद करो, याद बिगर प्यार नहीं हो सकता”

Month: August 2016